हमारे शरीर के पोषण और विकास के लिए विटामिन-डी (Vitamin D) एक आवश्यक विटामिन है. यह कैल्शियम का अवशोषण कर हमारी हड्डियों के विकास करता है. शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली (immune system) को मजबूत बनाने और शरीर के सूजन को कम करने में विटामिन-डी बहुत योगदान होता है. विटामिन-डी का रासायनिक नाम ‘कैल्सिफेरॉल’ (Calciferol) है.

Vitamin D की कमी से होने वाले रोग

जिन व्यक्तियों में विटामिन-डी की कमी होती है, उन्हें रिकेट्स नामक रोग हो सकता है. प्रायः यह रोग बच्चों में होता है. इस विटामिन की कमी से शरीर का इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है, जिससे कैंसर का खतरा बढ़ जाता है. इसकी कमी से ऑस्टियोमलेशिया नामक हड्डियों की बीमारी हो सकती है. बालों के रूखे होने का एक कारण विटामिन-डी भी होता है.

Vitamin D की अधिकता से होने वाले रोग

केवल विटामिन-डी की कमी से ही रोग नहीं होते हैं, बल्कि इसकी अधिकता भी नुकसानदेह होती है. विटामिन-डी की अधिकता से शरीर में कैल्शियम के अवशोषण की क्षमता बढ़ जाती है, जो हृदय रोग और गुर्दे में पथरी होने की संभावना को बढ़ा देता है.

Vitamin D से भरपूर टॉप 10 फूड

विटामिन-डी वसा यानी चर्बी में घुलनशील है. इसका तात्पर्य यह है कि शरीर में इसके अवशोषण और उपयोग के लिए वसा खाना भी जरुरी है. सूरज की रौशनी से हमारा शरीर स्वयं ही विटामिन-डी बना लेता है. लेकिन, इसकी सही मात्रा में आपूर्ति के लिए हमें अतिरिक्त खाद्य पदार्थ लेने की सलाह दी जाती है. ‘Vitamin D’ से भरपूर टॉप 10 फूड की सूची इस प्रकार है:

1. मछली

वैसे तो सभी मछलियाँ विटामिन-डी की अच्छी स्रोत हैं, लेकिन साल्मन (सामन), हेरिंग और सार्डिन मछली विटामिन-डी के समृद्ध स्रोत हैं.

2. मशरूम

वैसे मशरूम जो सूर्य की रौशनी में उपजाए जाते हैं, उनमें काफी मात्रा में विटामिन-डी पाया जाता है.

3. गाय का दूध

गाय के दूध में काफी मात्रा में विटामिन-डी पाया जाता है, जो काफी उच्च कोटि का होता है.

4. सोया मिल्क

गाय का दूध उपलब्ध नहीं होने पर विटामिन-डी के लिए विकल्प के तौर पर सोया मिल्क का इस्तेमाल किया जा सकता है.

5. पनीर

पनीर में काफी मात्रा में विटामिन-डी पाया जाता है. गाय के दूध की तरह काफी उच्च कोटि का होता है.

6. योगर्ट

योगर्ट का मुख्य घटक दूध होता है, इसलिए इसमें भी विटामिन-डी होता है. दरअसल,दूध से बना हर खाद्य पदार्थ विटामिन-डी पाने का एक अच्छा वैकल्पिक स्रोत है.

7. अंकुरित अनाज

benefits-of-sprouted-gram-and-moong

अंकुरित अनाज जैसे चना और मूंग में भी विटामिन-डी की कुछ मात्रा पाई जाती है. अनाजों में विटामिन-डी समाहित करने के लिए उन्हें फोर्टिफाई किया जाता है.

8. नारंगी

फलों में नारंगी में कुछ मात्रा में विटामिन-डी पाया जाता है. नारंगी से विटामिन-डी पाने के लिए उसका गाढ़ा जूस पीना चाहिए.

9. पोर्क (सूअर का मांस)

सूअर के मांस यानी पार्क में भी विटामिन-डी खूब पाया जाता है.

10. अंडा

हर प्रकार के अंडे की जर्दी यानी बीच में स्थित पीले वाले भाग में विटामिन-डी पाया जाता है.