बहुत कम लोग ही ऐसे होंगे, जिन्हें पनीर पसंद नहीं होगा. यह स्वास्थ्य और स्वाद दोनों के लिए लाजवाब है. इस मल्टी-विटामिन खाद्य पदार्थ को पका कर भी खाया जाता है और कच्चा भी. प्रोटीन, विटामिन-A, कैल्शियम और अन्य पोषक तत्व से भरपूर इस नायाब खाद्य (पनीर) का सेवन न केवल शारीरिक शक्ति बढ़ाता है, बल्कि कई मानसिक बीमारियां भी दूर करता है. एक महत्त्वपूर्ण बात यह कि इससे डायबिटीज (मधुमेह) कंट्रोल में रहता है, क्योंकि इसमें जीरो परसेंट शुगर होता है.

घर हो या रेस्टोरेंट, पनीर से भांति-भांति के स्वादिष्ट और पौष्टिक व्यंजन बनाए जाते हैं, आइए जानते हैं कि घर पर आसानी से पनीर कैसे बनाएं और इसे बनाने के लिए क्या-क्या सामग्रियां चाहिए.

आवश्यक सामग्रियां (Essential ingredients)

घर पर पनीर बनाने के लिए हमें जो-जो आवश्यक सामग्रियां हमें चाहिए, वे इस प्रकार हैं:

  1. फुल क्रीम दूध : 1 लीटर
  2. दही : 2 बड़ा चम्मच या एक पूरे नींबू का रस, या विनेगर (सिरका) : 10 मिली यानी एक बड़ा चम्मच
  3. साफ सूती (कॉटन) का कपड़ा, जो झीना होना चाहिए.

पनीर बनाने की विधि (Paneer making process)

  • सबसे पहले दूध को एक भगोने में डालकर धीमी आंच पर पकाएं.
  • बीच-बीच में थोड़ी-थोड़ी देर पर चम्मच से दूध को चलाते रहे, ताकि दूध भगोने की पेंदी में नहीं लगे.
  • जब दूध खौलने (उबलने) लगे तो आंच (फ्लेम) को धीमा करके इसमें दही या नींबू का रस या सिरका, आप जो चाहें, वो डालकर दूध को चलाते रहें.
  • जब दूध में दरदरे सफेद टुकड़े यानी फट्टन (फटी हुई दही की तरह) दिखने लगे तो गैस को बंद कर दें.
  • अब साफ सूती कपड़े को एक बड़ी-सी छन्नी में रखकर फट्टन को भलीभांति छान लें.
  • जब ये गरम-गरम ही हो, तो उसमें ठंडा पानी डालें, ताकि उसका खट्टापन निकल जाए.
  • अब हाथों की सहायता से दबा-दबा कर उसका पानी निकालें.
  • इसके बाद फट्टन को कपड़े में गोलाकार रूप में कसकर बांध लें और और उसके ऊपर एक भारी डिब्बा या कोई भी भारी सामान रख दें, ताकि उसका पानी रिसकर निकलता रहे.
  • उसे लगभग 20 से 30 मिनट के लिए छोड़ दें.
  • आपका ताजा और मुलायम पनीर बनकर तैयार है.

सावधानियां (Cautions)

how-to-make-paneer-at-home

  1. एक हेल्दी और उपयोग में आने लायक पनीर बनाने के लिए हमें निम्नलिखित सावधानियां अपनानी चाहिए:
  2. दूध से पनीर बनाने के लिए हमेशा फुल क्रीम दूध का ही इस्तेमाल करना चाहिए.
  3. दूध में दही, सिरका या नींबू का रस ठंडा होने पर नहीं मिलाना चाहिए.
  4. जैसे ही एक बार दूध में फट्टन बन जाए तो उसे उबालना बंद कर देना चाहिए.
  5. अगर पनीर में खटास बने रहने की आशंका हो, तो उसका खट्टापन निकालने के लिए उसमें 2-3 ग्लास ठंडा पानी मिला कर खटास को बहा देना चाहिए, इससे पनीर मुलायम भी बने रहेंगे.
  6. पनीर का सारा पानी निकलना बहुत आवश्यक है इसीलिए कोई भी भारी वस्तु को साफ करके एहतियात से  कपड़े में बंधे गोले के ऊपर जरुर रखें.
  7. यदि आप पनीर का उपयोग मिठाई बनाने में करना चाहते हैं तो उसे भारी वस्तु से दबाकर रखने की जरुरत नहीं है.

Ranju ki Recipes YouTube Channel